How to Start a Crypto ATM Business

एक क्रिप्टो ATM बिज़नेस कैसे शुरू करें

Reading time

ऐसे युग में जहाँ डिजिटल परिवर्तन पारंपरिक वित्त को नया आकार दे रहा है, और बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी वित्तीय नवाचार की एक नई लहर का नेतृत्व कर रही है। ऐसी डिजिटल क्रांति से उत्पन्न एक आकर्षक विकल्प बिटकॉइन ATM बिज़नेस की स्थापना करना है। यदि आप इस रोमांचक क्षेत्र को अपनाने पर विचार कर रहे हैं, तो इसकी बारीकियों और संभावनाओं को समझना सबसे ज़रूरी है।

हमारी गाइड का उद्देश्य आपको एक सफल क्रिप्टो ATM बिज़नेस शुरू और प्रबंधित करने के लिए क्या करना है इसकी व्यापक समझ से लैस करना है। बिटकॉइन के बुनियादी सिद्धांतों को समझने से लेकर नियामक परिदृश्यों पर काबू पाने, इष्टतम लोकेशनों को खोजने, सही मशीनों का चयन करने और संचालन प्रभावी रणनीतियों को लागू करने तक, हम आपको सूचित निर्णयों के साथ सशक्त बनाने के लिए हर पहलू को कवर कर रहे हैं।

मुख्य बातें

  1. बिटकॉइन जैसी डिजिटल करेंसी के बनने के साथ, क्रिप्टो ATM बिज़नेस शुरू करना एक आकर्षक अवसर प्रस्तुत करता है।
  2. क्रिप्टो ATM नकदी या कार्ड का उपयोग करके क्रिप्टोकरेंसी खरीदने और बेचने की सुविधा प्रदान करते हैं, जिससे लोगों को किसी ऑनलाइन एक्सचेंज की ज़रूरत के बिना कार्य करने की सुविधा और पहुँच मिलती है।
  3. क्रिप्टो ATM बिज़नेस शुरू करने से पहले, पूरी तरह से योजना बनाना ज़रूरी है, जिसमें KYC/AML जैसी नियामक ज़रूरतों का अनुपालन भी शामिल है।

एक क्रिप्टो ATM क्या होता है?

What is a Crypto ATM?

बिटकॉइन ATM, जिन्हें BTM भी कहा जाता है, डिजिटल करेंसियों की दुनिया में वास्तविक गेटवे के रूप में काम करते हैं। वे क्रिप्टोकरेंसी की डिजिटल वास्तविकता और पारंपरिक वित्तीय सेवाओं के बीच की खाई को एक पुल से मिलाते हैं। 

बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टोकरेंसियों की बढ़ती माँग के साथ-साथ सुलभ लेनदेन विधियों की ज़रूरत को देखते हुए, क्रिप्टो ATM एक आशाजनक उद्यमी कदम प्रस्तुत करते हैं।

एक बिटकॉइन ATM एक कियोस्क या टर्मिनल है जो उपयोगकर्ताओं को नकद या डेबिट/क्रेडिट कार्ड के उपयोग से क्रिप्टोकरेंसी खरीदने या बेचने की अनुमति देता है। नकदी निकालने वाले पारंपरिक ATM की तरह, बिटकॉइन ATM के लेनदेन में बिटकॉइन, एथेरियम, लाइटकॉइन आदि जैसी क्रिप्टोकरेंसी शामिल होती हैं।

ये ATM व्यक्तियों को ऑनलाइन एक्सचेंजों या ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्मों की ज़रूरत के बिना क्रिप्टोकरेंसी बाज़ार में प्रवेश करने या बाहर निकलने का एक सुविधाजनक और सुलभ तरीका प्रदान करते हैं। वे अक्सर सार्वजनिक स्थानों जैसे कि शॉपिंग मॉल, मार्ट, हवाई अड्डे और अन्य उच्च यातायात वाले क्षेत्रों में लगाए जाते हैं।

बिटकॉइन ATM मशीनों के प्रकार

Bitcoin ATM operation

वन-वे बनाम टू-वे मशीनें: वन-वे बिटकॉइन ATM उपयोगकर्ताओं को बिटकॉइन खरीदने या बेचने की अनुमति देते हैं, जबकि टू-वे मशीनें खरीद और बिक्री दोनों के लेनदेन को सक्षम बनाती हैं।

फिक्स्ड बनाम पोर्टेबल मशीनें: फिक्स्ड बिटकॉइन ATM स्थायी रूप से एक स्थान पर स्थापित किए जाते हैं, जबकि पोर्टेबल या मोबाइल यूनिटों को ज़रूरत के मुताबिक अलग-अलग स्थानों पर ले जाया जा सकता है।

कैश बनाम कैशलेस मशीनें: कैश वाले बिटकॉइन ATM कैश का डिपाजिट स्वीकार करते हैं और निकासी पर कैश देते हैं, जबकि कैशलेस मशीनें क्रेडिट/डेबिट कार्ड या मोबाइल भुगतान विधियों का उपयोग करके लेनदेन की सुविधा प्रदान करती हैं।

29 अक्टूबर, 2013 को, कनाडा के वैंकूवर शहर में एक कॉफ़ी शॉप खोली गई, जिसे दुनिया का पहला सार्वजनिक रूप से उपलब्ध बिटकॉइन ATM माना जाता है, जो रोबोकॉइन द्वारा संचालित है। क्रिप्टो ATM के संचालन के पहले सप्ताह में 348 लेनदेन हुए और $100,000 का लेनदेन हुआ।

कुछ ज़रूरी बातें

लॉन्च से पहले के मुख्य विचार

बिटकॉइन ATM बिज़नेस शुरू करने के लिए प्लान को सावधानीपूर्वक बनाना और विभिन्न कारकों पर ध्यान देने की ज़रूरत होती है:

नियामक अनुपालन

आपको अपने बिटकॉइन ATM बिज़नेस को कानूनी रूप से चलाने के लिए संघीय और राज्य कानून का पालन करना होगा। संघीय स्तर पर, बैंक सीक्रेसी एक्ट (BSA) के लिए ज़रूरी है कि आप फाइनेंशियल क्राइम्स एनफोर्समेंट नेटवर्क (FinCEN) के साथ मनी सर्विसिज़ बिज़नेस (MSB)के रूप में पंजीकरण करें। एक बार पंजीकृत हो जाने के बाद, आपको BSA की कुछ अतिरिक्त ज़रूरतों का भी पालन करना होगा।

बिटकॉइन ATM ऑपरेटरों को वित्तीय लेनदेन, उपभोक्ता संरक्षण और व्यावसायिक संचालन को नियंत्रित करने वाले सभी प्रासंगिक स्थानीय कानूनों और विनियमों का पालन करना होगा। अधिकार क्षेत्र के आधार पर, बिटकॉइन ATM ऑपरेटरों को सेल्स टैक्स या वैल्यू एडेड टैक्स (VAT) सहित टैक्सेशन उद्देश्योंके लिए पंजीकरण करने और रिपोर्टिंग की ज़रूरतों का अनुपालन करने की ज़रूरत हो सकती है।

बिटकॉइन ATM ऑपरेटरों को आम तौर पर लेनदेन करने वाले उपयोगकर्ताओं की पहचान सत्यापित करने के लिए मजबूत अपने ग्राहक को जानें (KYC) प्रक्रियाओं को लागू करने की ज़रूरत होती है। इसमें व्यक्तिगत जानकारी एकत्र करना शामिल हो सकता है, जैसे कि सरकार द्वारा जारी पहचान दस्तावेजों और पते का प्रमाण।

ऑपरेटरों को एंटी-मनी लॉन्ड्रिंग (AML) के नियमों का अनुपालन करनेके लिए संदिग्ध लेनदेन की निगरानी और रिपोर्टिंग के लिए सिस्टम लागू करना होगा। इसमें संभावित अवैध गतिविधि की पहचान करना और उसे चिह्नित करना शामिल है, जैसे कि बड़े नकदी लेनदेन या उच्च जोखिम वाले क्षेत्राधिकार से जुड़े लेनदेन।

AML नियमों के अनुपालन में अक्सर लेनदेन की राशि, टाइमस्टैम्प और ग्राहक जानकारी सहित लेनदेन के विस्तृत रिकॉर्ड को बनाए रखना शामिल होता है। इन रिकॉर्ड्स को एक निर्दिष्ट अवधि के लिए संभाल कर रखने और अनुरोध पर नियामक निरीक्षण के लिए उपलब्ध कराने की ज़रूरत हो सकती है।

कई अधिकार क्षेत्रों में, बिटकॉइन ATM के संचालन के लिए वित्तीय सेवाओं से संबंधित लाइसेंस प्राप्त करने या परमिट प्राप्त करने की ज़रूरत हो सकती है। इसमें बैंकिंग अधिकारियों, सिक्योरिटीज़ नियामकों, या अन्य प्रासंगिक नियामक निकायों से मनी ट्रांसमीटर लाइसेंस प्राप्त करना शामिल हो सकता है।

स्थान का चयन

इष्टतम परफॉरमेंस के लिए उपयुक्त जनसांख्यिकी और न्यूनतम प्रतिस्पर्धा वाले उच्च-यातायात क्षेत्रों की पहचान करना सबसे ज़रूरी है। ज़्यादा आबादी और बड़े स्तर पर क्रिप्टोकरेंसी अपनाने वाले प्रमुख शहर और शहरी क्षेत्र बिटकॉइन ATM को लगाने के लिए प्रमुख लक्ष्य हैं। 

पर्यटन स्थलों पर विचार करें क्योंकि पर्यटकों के बीच लोकप्रिय स्थान बिटकॉइन ATM से लाभान्वित हो सकते हैं, जो क्रिप्टोकरेंसी सेवाओं तक सुविधाजनक पहुँच चाहने वाले यात्रियों को सेवा प्रदान कर सकते हैं।

इसके अलावा, पारंपरिक बैंकिंग सेवाओं तक सीमित पहुँच वाले क्षेत्र बिटकॉइन ATM ऑपरेटरों के लिए खाली स्थान को भरने और वित्तीय समावेशन प्रदान करने के अवसर प्रदान करते हैं।

तकनीक-प्रेमी जनसांख्यिकी वाले एजुकेशनल इंस्टीटूट्स की खोज करें, जो संभावित लक्षित बाज़ार हैं, क्योंकि छात्रों और अध्यापकों की क्रिप्टोकरेंसी में रुचि हो सकती है।

बिटकॉइन मशीन का चयन

How to Start a Bitcoin ATM

आइए उन फ़ीचर्स पर गौर करें, जिन पर मशीन चुनते समय विचार किया जाना चाहिए:

  • उपयोगकर्ता इंटरफ़ेस – उपयोगकर्ता अनुभव को बढ़ाने के लिए सहज और उपयोगकर्ता के अनुकूल इंटरफ़ेस वाले बिटकॉइन ATM की तलाश करें। टचस्क्रीन डिस्प्ले और स्पष्ट निर्देश लेनदेन प्रक्रिया को सरल बना सकते हैं।
  • अनुपालन के फ़ीचर्स – सुनिश्चित करें कि मशीन KYC/AML सत्यापन टूल्स, लेनदेन निगरानी की क्षमताओं और आपके लक्षित बाज़ारों में नियामक ज़रूरतों के अनुपालन सहित मजबूत अनुपालन फ़ीचर्स प्रदान करती है।
  • सुरक्षा उपाय – अनधिकृत पहुँच और धोखाधड़ी को रोकने के लिए बिटकॉइन ATM के सुरक्षा फ़ीचर्स, जैसे कि एन्क्रिप्टेड डेटा ट्रांसमिशन, टेम्पर-प्रूफ कंपोनेंट्स यानि ऐसे कंपोनेंट्स जिनके साथ छेड़छाड़ न की जा सके, बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण और रिमोट मॉनिटरिंग क्षमताओं का मूल्यांकन करें।
  • विश्वसनीयता और रखरखाव – विश्वसनीयता और स्थायित्व के लिए प्रसिद्ध और प्रतिष्ठित निर्माता से एक मशीन चुनें। रखरखाव की ज़रूरतों, तकनीकी सहायता की उपलब्धता और वारंटी की कवरेज पर विचार करें।
  • लेनदेन की स्पीड और सीमाएँ – उपयोगकर्ताओं की अलग-अलग ज़रूरतों और माँग के स्तरों को समायोजित करने के लिए बिटकॉइन ATM द्वारा समर्थित लेनदेन प्रोसेसिंग स्पीड और लेनदेन की सीमाओं का आंकलन करें।
  • एकीकरण और संगतता – निर्धारित करें कि मशीन क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों, बिटकॉइन वॉलेट सॉफ़्टवेयर, और अन्य तृतीय-पक्ष की सेवाओं के साथ सहजता से एकीकृत होती है या नहीं। एकाधिक क्रिप्टोकरेंसी के साथ संगतता भी वांछनीय हो सकती है।
  • अनुकूलन के विकल्प – कुछ बिटकॉइन ATM निर्माता अनुकूलन के विकल्प प्रदान करते हैं, जिससे ऑपरेटरों को अपने लोगो के साथ मशीनों को ब्रांड करने और उपयोगकर्ता इंटरफ़ेस को अपने बिज़नेस की ब्रांडिंग के साथ संरेखित करने की अनुमति मिलती है।

इसके अलावा, क्रिप्टो ATM लागत की गणना सोच-समझकर की जानी चाहिए। क्रिप्टोकरेंसी ATM की लागत ब्रांड, मॉडल, फ़ीचर्स और निर्माता या प्रदाता द्वारा दी जाने वाली अतिरिक्त सेवाओं जैसे कारकों के आधार पर अलग-अलग हो सकती है। आम तौर पर, क्रिप्टोकरेंसी ATM खरीदने की कीमत कुछ हज़ार डॉलर से लेकर हज़ारों डॉलर तक के बीच कहीं भी हो सकती है।

यहाँ कुछ कारक दिए गए हैं जो लागत को प्रभावित कर सकते हैं:

  • निर्माता और मॉडल – विभिन्न निर्माता अलग-अलग विशिष्टताओं और क्षमताओं के साथ बिटकॉइन ATM मशीनों के अलग-अलग मॉडल पेश करते हैं। कुछ प्रसिद्ध निर्माताओं में Genesis Coin, General Bytes, Lamassu, BitAccess, आदि शामिल हैं।
  • फ़ीचर्स – ATM द्वारा प्रदान किए जाने वाले फ़ीचर्स के आधार पर लागत अलग-अलग हो सकती है। उदाहरण के लिए, कुछ ATM एक से ज़्यादा क्रिप्टोकरेंसियों का समर्थन, करते हैं, जबकि अन्य केवल एक ही का समर्थन कर सकते हैं। बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण, अनुपालन और ग्राहक सहायता कार्यक्षमता जैसी अतिरिक्त सुविधाएँ भी कीमत पर प्रभाव डाल सकती हैं।
  • अनुपालन और नियामक ज़रूरतें – उस क्षेत्र के आधार पर जहाँ ATM लगाया जाएगा, इसे विशिष्ट नियामक अनुपालन की ज़रूरतोंको पूरा करने की ज़रूरत हो सकती है। अनुपालन के फ़ीचर्स मशीन की कुल लागत में वृद्धि ला सकते हैं।
  • स्थापना और रखरखाव – स्थापना लागत, चल रहे रखरखाव, सॉफ़्टवेयर अपडेट और तकनीकी सहायता पर भी ध्यान दिया जाना चाहिए, जिसे या तो प्रारंभिक खरीद मूल्य में शामिल किया जाता है या अलग से बिल किया जा सकता है।
  • वॉल्यूम डिस्कॉउंट और लीज़िंग विकल्प – कुछ निर्माता या प्रदाता एकाधिक यूनिटों या लीज़िंग विकल्पों को खरीदने के लिए वॉल्यूम डिस्कॉउंट की पेशकश कर सकते हैं, जिससे लागत कुछ समय में बंट सकती है।

विभिन्न विकल्पों पर गहन शोध करना, अपनी विशिष्ट ज़रूरतों और बजट पर विचार करना और निर्णय लेने से पहले विशेषज्ञों या मौजूदा ऑपरेटरों से परामर्श करना महत्वपूर्ण है। इसके अतिरिक्त, संचालन लागत, जैसे जगह का किराया, लेनदेन की फ़ीस और अनुपालन लागत, को भी आपके संपूर्ण बजट और बिटकॉइन ATM के बिज़नेस मॉडल में शामिल किया जाना चाहिए।

अपना खुद का बिटकॉइन ATM बिज़नेस स्थापित करना

how does a crypto atm work

उपर्युक्त सभी पहलुओं पर विचार करने के बाद, बिटकॉइन ATM बिज़नेस शुरू करने के लिए इन चरणों का पालन करें:

  1. एक विस्तृत बिज़नेस प्लान तैयार करें
  2. फंडिंग एकत्र करें
  3. सही मशीनें हासिल करें
  4. स्थापित करने वाले स्थानों के लिए सौदा करें
  5. इनस्टॉल करना और सुरक्षा सुनिश्चित करें
  6. मार्केटिंग और समर्थन लागू करें

अपने बिटकॉइन ATM बिज़नेस का संचालन और विस्तार करें

एक बार चालू होने के बाद, नियमित रखरखाव पर ध्यान केंद्रित करें और इष्टतम परफॉरमेंस सुनिश्चित करने के लिए नियमित जाँच और अपडेट करें। विनियामक परिवर्तनों से अवगत रहना और सटीक लेनदेन रिकॉर्ड बनाए रखना महत्वपूर्ण है।

परफॉरमेंस का आंकलन करने और विकास के अवसरों की पहचान करने के लिए मेट्रिक्स और वित्तीय विश्लेषण करना ना भूलें। अपने नेटवर्क और ग्राहक बेस का विस्तार करने के लिए नए स्थानों और सेवाओं को एक्स्प्लोर करें।

निष्कर्ष

क्रिप्टो ATM बिज़नेस शुरू करने में विकास और नवाचार की अपार संभावनाएँ मिलती हैं। रणनीतिक योजना, अनुपालन का पालन करने और संचालन की उत्कृष्टता के द्वारा, आप डिजिटल वित्तीय क्रांति में सबसे आगे एक लाभदायक बिज़नेस स्थापित कर सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

मैं बिटकॉइन ATM बिज़नेस कैसे शुरू कर सकता/सकती हूँ?

बिटकॉइन ATM मशीनें खरीदें, AML/KYC की ज़रूरतों को पंजीकृत करें, बिटकॉइन की स्थिर सप्लाई सुनिश्चित करें, मशीन को एक स्थान पर लगाएँ, और कैश डालें।

एक क्रिप्टो ATM काम कैसे करता है?

एक बिटकॉइन ATM (ऑटोमेटेड टेलर मशीन) एक पारंपरिक ATM के समान ही काम करता है लेकिन यह बिटकॉइन, एथेरियम, लाइटकॉइन आदि जैसी क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े लेनदेन की सुविधा प्रदान करता है।

क्रिप्टो ATM लोकेटर कैसे काम करता है?

क्रिप्टो ATM का पता लगाने के लिए, आप विशेष रूप से इस उद्देश्य के लिए डिज़ाइन किए गए विभिन्न ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्मों और टूलों का उपयोग कर सकते हैं। कई लोकप्रिय बिटकॉइन ATM वेबसाइट और मोबाइल ऐप आपको दुनिया भर में क्रिप्टोकरेंसी ATM ढूँढ़ने की अनुमति देते हैं।

क्रिप्टो ATM की लिमिट क्या है?

क्रिप्टो ATM के लिए लेनदेन सीमा विशिष्ट ATM ऑपरेटर, नियामक ज़रूरतों और उपयोगकर्ताओं द्वारा पूर्ण किए गए पहचान सत्यापन के प्रकार सहित कई कारकों के आधार पर व्यापक रूप से अलग-अलग हो सकती है।

Linkedin

द्वारा लिखित

Nato Maisuradzeलेखक
Linkedin

द्वारा समीक्षित

Tamta Suladzeप्रमुख लेखक

पिछले लेख

How to integrate Bitcoin payment API
Bitcoin भुगतान API: इनका चयन कर इन्हें इंटीग्रेट कैसे करें?
शिक्षा 15.05.2024
PSP vs Payment Gateway: Which One is Best for You?
PSP बनाम भुगतान गेटवे: अपने व्यवसाय में आपको किसी इंटीग्रेट करना चाहिए?
शिक्षा 10.05.2024
 How to Accept Litecoin Payments
2024 में Ethereum भुगतान प्राप्त करने के तरीके
शिक्षा 09.05.2024
वेबसाइट पर Bitcoin भुगतान विकल्पों को कैसे जोड़ें?
शिक्षा 06.05.2024