getting a crypto wallet license

क्रिप्टो वॉलेट के लाइसेंस को कैसे प्राप्त करें

Reading time

क्रिप्टो की इंडस्ट्री एक रोमांचक क्षेत्र है जहाँ उपयोगकर्ता के एसेट की सुरक्षा के लिए वॉलेटों का एक प्रमुख महत्त्व है। इन वॉलेटों को मोटे तौर पर दो प्रकारों में वर्गीकृत किया जा सकता है: कस्टोडियल और गैर-कस्टोडियल। क्रिप्टो क्षेत्र के विकास के साथ, नियामक जाँच बढ़ गई है, जिससे जटिल अनुपालन और लाइसेंसिंग की आवश्यकताएँ भी बढ़ गई हैं जिन्हें पूरा किया जाना चाहिए।

इस प्रकार, विशेष लाइसेंस सामने आए, जो कि क्रिप्टो वॉलेट के उस क्षेत्राधिकार जहाँ इसका उपयोग किया जाता है की नियामक पूर्व-आवश्यकताओं के अनुपालन की पुष्टि करने के लिए किसी एक या दूसरे किसी नियामक संस्था द्वारा जारी किए जाते हैं, जो कि उनके व्यावहारिक उपयोग के नियमों और शर्तों को परिभाषित करने वाला कानूनी ढाँचा बनाते हैं।

यह लेख इस बात पर प्रकाश डालेगा कि एक क्रिप्टो लाइसेंस क्या होता है और यह किस प्रकार का होता है। आप यह भी सीखेंगे कि क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस क्या है और इसे प्राप्त करने के लिए चरणों का एल्गोरिदम क्या है।

मुख्य बातें

  1. क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस प्रदाता कंपनी की वैधता और उपयोगकर्ता कीज़ के स्टोरेज के संबंध में स्थापित आवश्यकताओं के अनुपालन की पुष्टि करने वाला एक प्रमाण पत्र है।
  2. क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस क्रिप्टो के एसेट के प्रसंस्करण और वॉलेट के भीतर उनके संचलन और रूपांतरण से संबंधित संचालन की पारदर्शिता, सुरक्षा और अखंडता सुनिश्चित करता है।
  3. क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस प्राप्त करने में पहला चरण उस क्षेत्र के लिए नियामक निकाय चुनना है जहाँ आप व्यवसाय करने की योजना बना रहे हैं।

क्रिप्टो लाइसेंस क्या है?

एक क्रिप्टो लाइसेंस नियामक अधिकारियों द्वारा दिया गया एक ऐसा आधिकारिक प्राधिकरण है जो किसी कंपनी को क्रिप्टो इंडस्ट्री के अंदर ट्रेडिंग, एक्सचेंज, वॉलेट सेवाएँ, ब्रोकरेज, कस्टडी समाधान, और माइनिंग संचालन जैसी विभिन्न गतिविधियों में कानूनी रूप से संलग्न होने की अनुमति देता है। 

ऐसा एक लाइसेंस प्राप्त करना संबंधित क्षेत्राधिकार के लागू होने वाले सभी कानूनों और विनियमों के अनुपालन का आश्वासन देता है। यह पारदर्शिता, जवाबदेही और ज़िम्मेदार व्यावसायिक प्रथाओं के प्रति कंपनी की प्रतिबद्धता को भी दर्शाता है, जो ग्राहकों, निवेशकों और अन्य हितधारकों के साथ विश्वास और विश्वसनीयता स्थापित करने में मदद कर सकता है। 

crypto license benefits

इसलिए, इस तेज़ी से विकसित हो रहे और अत्यधिक प्रतिस्पर्धी बाज़ार में काम करने के इच्छुक किसी भी व्यवसाय के लिए क्रिप्टोकरेंसी का लाइसेंस प्राप्त करना अत्याधिक महत्वपूर्ण है।

क्रिप्टो विषयों के क्षेत्र में भाग लेने वाले प्रत्येक उद्यम के लिए अपेक्षित लाइसेंस होना अनिवार्य है। यह लाइसेंस एक गारंटी के रूप में कार्य करता है कि संबंधित क्रिप्टो कंपनी सभी प्रासंगिक कानूनों और विनियमों का पालन करते हुए अपने ग्राहकों की डिजिटल संपत्ति की सुरक्षा करने के लिए सुसज्जित है। 

उपलब्ध क्रिप्टो लाइसेंस की श्रेणियाँ विविध हैं, जिनमें एक्सचेंज और वॉलेट लाइसेंस से लेकर कस्टोडियन लाइसेंस तक शामिल हैं। इन लाइसेंसों को प्राप्त करने के परमाधिकार एक देश से दूसरे के बीच में काफी भिन्न हो सकते हैं।

क्रिप्टो एक्सचेंजों के लाइसेंस के समान ही क्रिप्टो वॉलेट का लाइसेंस क्रिप्टो क्षेत्र के विधायी विनियमन की एक नई दिशा है।

कुछ आवश्यक बातें

क्रिप्टोकरेंसी लाइसेंस कितनी तरह के होते हैं?

क्रिप्टोकरेंसी की दुनिया में, सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला की पेशकश की जाती है, और प्रत्येक सेवा यानि सर्विस का अपना एक विशिष्ट लाइसेंस होता है जिसे नियामक और अनुपालन मानकों को पूरा करने के लिए डिज़ाइन किया जाता है। इस इंडस्ट्री में व्यवसायों द्वारा कानूनी और सुरक्षित रूप से संचालन सुनिश्चित करने के लिए इन नियमों और मानकों का पालन करना अनिवार्य है।

crypto license types

ये क्रिप्टो लाइसेंस के मुख्य प्रकार हैं जो इस क्षेत्र में पाए जा सकते हैं:

1. क्रिप्टो एक्सचेंज लाइसेंस

एक क्रिप्टो एक्सचेंज को संचालित करनेया क्रिप्टोकरेंसी और फिएट कर्रेंसियों के लिए विनिमय सेवाएँ प्रदान करने का लाइसेंस इस डोमेन में ट्रेडिंग सेवाएँ प्रदान करने वाली कंपनियों के लिए आवश्यक है। लाइसेंस इसके धारक को इच्छुक पार्टियों के बीच सुरक्षित और सुरक्षापूर्वक लेनदेन की सुविधा प्रदान करने में सक्षम बनाता है। 

विनिमय सेवाओं में फिएट पैसे या अन्य क्रिप्टो के बदले में क्रिप्टो का ट्रेड शामिल हो सकता है। इस तरह का लाइसेंस प्राप्त करना नियामक आवश्यकताओं और इंडस्ट्री की सर्वोत्तम प्रथाओं का पालन करने, अपने उपयोगकर्ताओं के फंड्स और व्यक्तिगत जानकारी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए संगठन की प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

2. क्रिप्टो ब्रोकर लाइसेंस

ब्रोकर लाइसेंस का होना उन व्यवसायों के लिए एक अनिवार्य आवश्यकता है जो अपने ग्राहकों की ओर से क्रिप्टोकरेंसी की खरीद और बिक्री में बिचौलियों के रूप में कार्य करते हैं। लाइसेंस धारक यह सुनिश्चित करने के लिए बाध्य हैं कि उन्होंने आवश्यक जोखिम प्रबंधन प्रक्रियाओं को लागू किया है, बाज़ार आचरण नियमों का अनुपालन किया है, और सभी लेनदेन की रिपोर्टे वित्तीय नियमों के अनुरूप की है। 

कानूनी आवश्यकताओं का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए, ब्रोकरों को अपने ग्राहकों की पहचान के सत्यापन और किसी भी संदिग्ध गतिविधि का पता लगाने सहित सभी लेनदेन के बारे में सावधानी बरतनी चाहिए।

3. मनी ट्रांसमीटर लाइसेंस

जो कंपनियाँ क्रिप्टो को क्रिप्टो से फिएट या इसके विपरीत ट्रांसफर या परिवर्तित करती हैं, उन्हें मनी ट्रांसमीटर लाइसेंस प्राप्त करना होगा। यह लाइसेंस यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है कि ये संस्थाएँ एंटी-मनी लॉन्ड्रिंग (AML) और काउंटरिंग द फाइनेंसिंग ऑफ टेररिज्म (CTF) के मानकों का अनुपालन करती हैं।

एक आवेदक बनने के लिए, आपके द्वारा यह ध्यान में रखना महत्वपूर्ण है कि कुछ विशिष्ट ज़रूरतें हैं जिन्हें आपको पूरा करना होगा। इनमें आम तौर पर परिचालन पूंजी यानि ऑपरेटिंग कैपिटल और बांड की ज़रूरतों के एक विशेष स्तर को बनाए रखना और उपभोक्ता संरक्षण के लिए आंतरिक नीतियाँ शामिल हैं। आप इन ज़रूरतों को पूरा करके खुद को एक भरोसेमंद और ज़िम्मेदार आवेदक के रूप में स्थापित कर सकते हैं।

4. माइनिंग लाइसेंस

कुछ न्यायक्षेत्रों में, जो व्यवसाय ब्लॉकचेन नेटवर्क पर लेनदेन के सत्यापन में भाग लेते हैं, जिसे आमतौर पर माइनिंग या खनन भी कहा जाता है, उन्हें माइनिंग लाइसेंस प्राप्त करने की ज़रूरत हो सकती है। यह लाइसेंस व्यवसाय के लिए निर्दिष्ट क्षेत्राधिकार के भीतर माइनिंग गतिविधियों का संचालन करने के लिए एक कानूनी प्राधिकरण है। संभावित कानूनी निहितार्थों से बचने के लिए कंपनियों को अपने संबंधित क्षेत्राधिकार की लाइसेंसिंग की ज़रूरतों की पूर्ण जानकारी होनी चाहिए।

यह बात ध्यान देने योग्य है कि भले ही अधिनियम अधिक व्यापक ना हों, फिर भी लाइसेंसों में ऊर्जा खपत मानकों, उपकरण अनुपालन और जब ज़रूरी हो तो पर्यावरणीय प्रभावों की आवश्यकताएँ हो सकती हैं। इसके अलावा, माइनिंग कार्यों से यह प्रदर्शित करने की अपेक्षा की जा सकती है कि वे अपनी माइनिंग गतिविधियों के माध्यम से उत्पन्न पुरस्कार और शुल्क का प्रबंधन कैसे करते हैं।

5. कस्टडी लाइसेंस

अपने ग्राहकों की ओर से डिजिटल एसेट की सुरक्षा के लिए कस्टडी संस्थाओं के पास लाइसेंस होना ज़रूरी है। यह लाइसेंस यह सुनिश्चित करने के लिए महत्वपूर्ण है कि ग्राहकों के फंड्स सुरक्षित हैं और उनकी अखंडता बनी हुई है। 

इसलिए, किसी भी ऐसी संस्था के लिए कस्टडी लाइसेंस को प्राप्त करना महत्वपूर्ण है जो अपने ग्राहकों के डिजिटल एसेट के साथ-साथ क्रिप्टो वॉलेट विनियमन के लिए वॉलेट और सुरक्षा मानकों के लिए उच्चतम सुरक्षा को बनाए रखना चाहती है।

अपने फंड्स की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, व्यवसायों को मल्टी-सिग्नेचर वॉलेट, कोल्ड स्टोरेज विकल्पोंका उपयोग और नियमित ऑडिट आयोजित करने जैसे मज़बूत सुरक्षा उपायों को लागू करना चाहिए। 

किसी भी संभावित उल्लंघन या नुकसान से निपटने के लिए विश्वसनीय बैकअप सिस्टम और आकस्मिक योजना का होना भी ज़रूरी है। इन सुरक्षा प्रोटोकॉलों को प्राथमिकता देकर, व्यवसाय खुद को और अपने ग्राहकों को वित्तीय नुकसान से बचा सकते हैं और इंडस्ट्री के अंदर विश्वास को बनाए रख सकते हैं।

6. वॉलेट लाइसेंस

एक क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस एक ऐसा प्रमाणीकरण है जो क्रिप्टोकरेंसी के भंडारण और प्रबंधन के लिए डिजिटल वॉलेट प्रदान करने वाले व्यवसायों को जारी किया जाता है। इस लाइसेंस को प्राप्त करने के लिए, वॉलेट प्रदाताओं को निजी कीज़ को सुरक्षित रूप से हिफ़ाजत में रखने और क्रिप्टो फंड्स तक अनधिकृत पहुँच को रोकने की अपनी क्षमता को प्रदर्शित करना होता है। 

यह प्रमाणीकरण इंडस्ट्री के अंदर उच्चतम सुरक्षा और विश्वास मानकों को बनाए रखने के लिए प्रदाता की प्रतिबद्धता का एक प्रमाण है। उन्हें उपयोगकर्ता की जानकारी की गोपनीयता की गारंटी देनी होगी, जिसे एन्क्रिप्शन के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त, कीज़ या पासवर्ड के खो जाने अथ्वा उपयोगकर्ता द्वारा भूल जाने की स्थिति में वॉलेट पुनर्प्राप्ति के लिए उनके पास प्रयाप्त प्रक्रियाएँ होनी चाहिए।

इन लाइसेंसों को प्राप्त करने के लिए, नियामक परिदृश्य की व्यापक समझ और एक लचीला व्यवसाय मॉडल का होना महत्वपूर्ण है जो इन नियमों को पूरा करने के लिए समायोजित हो सके। विभिन्न क्षेत्रों में काम करने की इच्छुक कंपनियों के लिए, स्थानीय कानूनों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए कई लाइसेंस प्राप्त करना और अपने अनुपालन प्रोटोकॉल को लगातार अपडेट करना आवश्यक हो सकता है।

कस्टोडियल और गैर-कस्टोडियल वॉलेटों के लिए एक क्रिप्टो लाइसेंस

क्रिप्टो वॉलेटों की अलग-अलग विशेषताएँ, उपयोग के उद्देश्य, लागत और प्रकार होते हैं। वहीं, वॉलेट के प्रकार के आधार पर इसकी अलग-अलग कार्यक्षमता भी हो सकती है। हालाँकि, मूल रूप से, जब क्रिप्टो वॉलेट के लाइसेंस के बारे में बात की जाती है, तो उन्हें कस्टोडियल और गैर-कस्टोडियल में वर्गीकृत किया जाता है।

difference between custodial and non-custodial wallets

कस्टोडियल वॉलेट

कस्टोडियल वॉलेट पारंपरिक बैंकों के समान ही कार्य करते हैं, जहाँ एक तृतीय-पक्ष सेवा उपयोगकर्ताओं के डिजिटल एसेट के लिए उनकी निजी कीज़ रखती है। ये वॉलेट उपयोगकर्ताओं को उनकी निजी कीज़ पर सीधे नियंत्रण के बिना क्रिप्टो के फंड्स को स्टोर करने, किसी को भेजने और किसी से प्राप्त करने में सक्षम बनाते हैं। 

इसके प्रसिद्ध उदाहरणों में Coinbase, Binance, और Kraken जैसे एक्सचेंजों द्वारा प्रदान किए गए वॉलेट शामिल हैं। अपनी कस्टोडियल यानि संरक्षक प्रकृति के कारण, ये वॉलेट सख्त नियामक ज़रूरतों के अधीन हैं, जिनमें आवश्यक लाइसेंस प्राप्त करना, KYC/AML प्रोटोकॉल का अनुपालन करना और मज़बूत साइबर सुरक्षा के उपायों को लागू करना शामिल है।

गैर-कस्टोडियल वॉलेट

उपयोगकर्ता गैर-कस्टोडियल वॉलेट के माध्यम से अपने एसेट पर पूर्ण नियंत्रण रख सकते हैं, जो उनकी निजी कीज़ तक पहुँच प्रदान करते हैं। ये वॉलेट ब्लॉकचेन नेटवर्क के प्रवेश द्वार के रूप में कार्य करते हैं, जो उपयोगकर्ताओं को उनके व्यक्तिगत उपकरणों पर निजी और सार्वजनिक कीज़ बनाने और प्रबंधित करने में सहायता करते हैं। 

MetaMask, Trust Wallet, और Exodus ऐसे वॉलेट के उदाहरण हैं। क्योंकि गैर-कस्टोडियल वॉलेट उपयोगकर्ता के एसेट की निगरानी नहीं रखते हैं, इसलिए वे आम तौर पर लाइसेंसिंग की अत्याधिक बड़ी आवश्यकताओं के अधीन नहीं होते हैं।

क्रिप्टो वॉलेट की अपनी विशिष्टताएँ होती हैं और उनका नियामक ढाँचा किसी एक क्षेत्राधिकार से दूसरे क्षेत्राधिकार के बीच में काफी अलग होता है और इसकी अपनी विशिष्टताएँ होती हैं। साथ ही, एक नियम के रूप में, इस विषय के ढाँचे के भीतर, लाइसेंस प्राप्त करने की विशिष्टताओं के कारण जिन मुख्य देशों पर ध्यान दिया जाता है, उन्होंने ऐसे उत्पादों में रुचि रखने वाले व्यवसायों के बीच अपनी एक निश्चित स्तर की लोकप्रियता बना ली है। 

इन देशों में एस्टोनिया, दुबई और लिथुआनिया हैं, जो वीज़ा प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित शर्तें रखते हैं।

एस्टोनिया

एस्टोनिया ने क्रिप्टो लाइसेंसिंग के प्रति एक अच्छा संतुलित दृष्टिकोण अपनाया है। लाइसेंस के शुल्क को €10,000 की उचित दर पर सेट किया गया है और शेयर के कैपिटल की ज़रूरत को €100,000 पर। लाइसेंसिंग प्रक्रिया में 6 से 9 महीने तक का समय लग सकता है। 

विशेष रूप से, इस पर कोई नवीनीकरण या सुपरविशन का शुल्क नहीं है, जो क्रिप्टो के उद्यमों पर वित्तीय बोझ को कम करने में मदद करता है। यह दृष्टिकोण लिथुआनिया के समान है, जिसे इंडस्ट्री में भी खूब सराहा गया है। 

संपूर्ण रूप से, एस्टोनिया के क्रिप्टो लाइसेंसिंग ढाँचे को क्रिप्टो उद्यमों के लिए एक अनुकूल नियामक वातावरण प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जबकि यह सुनिश्चित किया गया है कि सिस्टम की अखंडता को बनाए रखने के लिए उचित जाँच और संतुलन मौजूद रहे।

यूएई (दुबई)

दुबई अपने अपेक्षाकृत अनुकूल नियामक वातावरण के कारण ब्लॉकचेन और क्रिप्टो उद्यमों के लिए एक संभावित केंद्र के रूप में उभरा है। गैर-कस्टोडियल वॉलेट ऑपरेटरों को शहर की लाइसेंसिंग आवश्यकताएँ उचित रूप से अनुकूल लग सकती हैं। 

लाइसेंस आवेदन प्रक्रिया में €25,000 का शुल्क और शेयर के कैपिटल में €150,000 की ज़रूरत शामिल है। इसके अतिरिक्त, लाइसेंस धारक अपने लाइसेंस को बनाए रखने के लिए €50,000 के वार्षिक पर्यवेक्षण शुल्क और €25,000 के वार्षिक नवीनीकरण शुल्क का भुगतान करने के लिए ज़िम्मेदार हैं। संपूर्ण लाइसेंसिंग प्रक्रिया के लिए अनुमानित समय-सीमा लगभग एक वर्ष है।

लिथुआनिया

लिथुआनिया किसी भी लाइसेंस शुल्क के बिना, गैर-कस्टोडियल वॉलेट के क्रिप्टो लाइसेंस को प्राप्त करने के लिए एक अधिक कुशल प्रक्रिया प्रस्तुत करता है। सेटअप प्रक्रिया आम तौर पर 30 से 60 दिनों की समय सीमा के भीतर पूरी हो जाती है, बशर्ते कि €125,000 की शेयर कैपिटल ज़रूरत को पूरा किया गया हो। 

इस राशि में से, 25% (€31,250) का तत्काल भुगतान आवश्यक है, जबकि शेष 75% (€93,750) एक वर्ष के भीतर जुटाया जा सकता है। नवीकरण या सुपरविशन शुल्क की अनुपस्थिति को देखते हुए, लिथुआनिया का क्षेत्राधिकार स्टार्ट-अप और स्थापित उद्यमों दोनों के लिए ही एक आकर्षक विकल्प प्रस्तुत करता है।

क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस को प्राप्त करने का एल्गोरिदम क्या है?

क्रिप्टो वॉलेट के लिए लाइसेंस प्राप्त करना एक चुनौतीपूर्ण कार्य है, लेकिन स्पष्ट कार्य योजना का पालन करके इसे संभव किया जा सकता है। इसलिए, नीचे अनुक्रमिक चरणों की एक सूची दी गई है जिसका उद्देश्य इसके उपयोग के अधिकार क्षेत्र की परवाह किए बिना क्रिप्टो वॉलेट के लिए लाइसेंस प्राप्त करने की प्रक्रिया की सभी विशिष्टताओं, बारीकियों और पहलुओं को ध्यान में रखना है।

steps of getting a crypto wallet license

1. विनियामक क्षेत्राधिकार का चयन

किसी क्रिप्टो वॉलेट के लाइसेंस प्राप्त करने में पहला चरण एक उचित नियामक क्षेत्राधिकार चुनना है। क्योंकि आज, वित्त के क्षेत्र में कई नियामक निकाय हैं, जिनमें से प्रत्येक की विशेष रूप से क्रिप्टो वॉलेट विनियमन के संबंध में अपनी आवश्यकताएँ हैं, साथ ही काम की व्यक्तिगत विशिष्टताएँ भी हैं, चयन क्रिप्टो एसेट के भंडारण के लिए सेवाओं की पेशकश करने वाले अभियान की ज़रूरतों और किसी विशेष क्षेत्र में व्यवसाय करने की शर्तों के विश्लेषण पर आधारित होना चाहिए।

2. क्रिप्टो वॉलेट के बिज़नेस मॉडल का चयन

क्रिप्टो वॉलेट के लाइसेंस को प्राप्त करने के दूसरे चरण में कंपनी के बुनियादी ढाँचे के अंदर कस्टोडियल स्टोरेज सेवाओं की पेशकश करने या उपयोगकर्ताओं को गैर-कस्टोडियल स्टोरेज के माध्यम से कीज़ स्वयं स्टोर करने की अनुमति देने के बीच निर्णय लेना शामिल है। यह चयन महत्वपूर्ण है क्योंकि यह अपने उपयोगकर्ताओं की निजी कीज़ पर कंपनी के नियंत्रण के स्तर को निर्धारित करता है, जो क्रिप्टो के स्टोरेज का एक महत्वपूर्ण पहलू है। 

जो कंपनियाँ कस्टोडियल स्टोरेज का विकल्प चुनती हैं, वे अपने उपयोगकर्ताओं की निजी कीज़ की सुरक्षा के लिए ज़िम्मेदार होती हैं। इसके विपरीत, गैर-कस्टोडियल स्टोरेज का विकल्प चुनने वाली कंपनियाँ उपयोगकर्ताओं को अपनी कीज़ को खुद प्रबंधित और सुरक्षित करने की अनुमति देती हैं। निर्णय प्रत्येक दृष्टिकोण के सुरक्षा जोखिमों और संभावित लाभों पर विचार करते हुए सावधानीपूर्वक लिया जाना चाहिए। 

3. अनुपालन और यथोचित परिश्रम

वित्तीय क्षेत्र में सेवाओं के प्रावधान से संबंधित किसी भी गतिविधि को वैधानिक और नियामक दस्तावेज़ों द्वारा सख्ती से विनियमित किया जाता है जो ना केवल उस वातावरण की सुरक्षा सुनिश्चित करता है जिसमें ऐसी गतिविधि होती है बल्कि एक ढाँचा भी स्थापित करता है जो व्यापार के कुछ पहलुओं को मानकीकृत और एकीकृत करने की अनुमति देता है।

इस प्रकार, एन्क्रिप्टेड कीज़ के स्टोरेज प्रदाताओं को संबंधित नियामक अधिकारियों द्वारा स्थापित परमाधिकारों और नियमों का पालन करना चाहिए, जिन्हें बदले में क्रिप्टो वॉलेट प्रदाताओं की नीतियों और नियमों के साथ टकराव नहीं करना चाहिए।

4. स्थानीय आर्थिक पदार्थ विनियम एवं अनुपालन

क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस चाहने वाली संस्थाओं के लिए स्थानीय आर्थिक पदार्थ नियमों का पालन महत्वपूर्ण है। इन विनियमों का अनुपालन सुनिश्चित करता है कि लाइसेंस आवेदक की व्यावसायिक गतिविधियाँ क्षेत्राधिकार के आर्थिक लक्ष्यों के साथ संरेखित हैं। 

इसलिए, व्यवसायों को आर्थिक पदार्थ आवश्यकताओं को समझना और उनका पालन करना चाहिए और प्रदर्शित करना चाहिए कि उनका संचालन वास्तव में पंजीकरण के अधिकार क्षेत्र पर आधारित है। इन विनियमों का अनुपालन करने में विफलता के महत्वपूर्ण कानूनी और वित्तीय परिणाम हो सकते हैं। इसलिए, क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस प्राप्त करने के लिए स्थानीय आर्थिक पदार्थ विनियमों का अनुपालन सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है।

5. दस्तावेज़ तैयार करना

इस चरण में क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस प्राप्त करने के लिए दस्तावेज़ों का आवश्यक पैकेज एकत्र करना और तैयार करना शामिल है। इस पैकेज में जमा करने के लिए आवश्यक दस्तावेज़ों की एक अलग संख्या शामिल हो सकती है, क्योंकि इसकी सामग्री पूर्ण रूप से नियामक की आवश्यकताओं पर निर्भर करती है। 

एक नियम के रूप में, बुनियादी दस्तावेज़ों की सूची में वाणिज्यिक गतिविधियों को करने का अधिकार रखने वाली पंजीकृत कानूनी संस्थाओं के रजिस्टर से एक उद्धरण, बैंक खाते के स्टेटस का प्रमाण पत्र, क्रिप्टो गतिविधियों का संचालन करने का लाइसेंस (इकाई के कानूनी रूप के आधार पर) और तीसरे पक्ष की गोपनीय वित्तीय जानकारी संग्रहीत करने के लिए प्रदान की गई सेवाओं की सुरक्षा और वैधता से सीधे संबंधित कई अन्य दस्तावेज़ शामिल हैं।

6. क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस के आवेदन को दाखिल करना

यह चरण अंतिम है और इसमें एक विशेष फॉर्म भरने की प्रक्रिया शामिल है, जिसमें अन्य बातों के अलावा, नियामक प्राधिकरण के आधार पर एक अलग फॉर्म भी होता है। 

एक नियम के रूप में, फॉर्म लाइसेंस प्राप्त करने की इच्छुक कंपनी के बारे में बहुत जानकारी प्रदान करता है, साथ ही सभी विवरणों और बारीकियों के साथ उसकी गतिविधियों पर विस्तृत डेटा भी प्रदान करता है। इस प्रक्रिया के साथ क्रिप्टो लाइसेंसिंग पर कानूनी सहायता और सलाह के लिए आवश्यक शुल्क और कमीशन का भुगतान भी शामिल है।

क्रिप्टो वॉलेट के लाइसेंस के लिए आवेदन पर एकतरफ़ा विचार किया जाता है और यह क्रिप्टो नियामक प्राधिकरण के कई कारकों और विशिष्टताओं पर निर्भर करता है। आवेदन प्रक्रिया पूरी होने पर, नियामक यह तय करेगा कि क्या एक लाइसेंस जारी किया जाए या नहीं जो कंपनी को अपने ग्राहकों को कानूनी रूप से क्रिप्टो स्टोरेज सेवाएँ प्रदान करने का अधिकार देता है।

निष्कर्ष

एक क्रिप्टो वॉलेट का लाइसेंस एक महत्वपूर्ण आधिकारिक कानूनी दस्तावेज़ है जो उपयोगकर्ताओं की निजी कीज़ को संग्रहीत करने और किसी भी प्रारूप के आभासी एसेटों तक पहुँच प्रदान करने से संबंधित सेवाओं के प्रावधान में कानूनी रूप से शामिल होने के कंपनी के अधिकार की पुष्टि करता है। ऐसा लाइसेंस होने से, एक कंपनी अपने ग्राहकों को इन वॉलेटों की एन्क्रिप्शन कीज़ तक अपनी पहुँच के संबंध में सुरक्षा, ईमानदारी और पारदर्शिता की गारंटी देती है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस क्या है?

एक क्रिप्टो वॉलेट का लाइसेंस, उपयोगकर्ता वॉलेट की निजी कीज़ को संग्रहीत करने के लिए सेवाएँ प्रदान करने वाली कंपनियों के विनियमन के संबंध में कानूनी रूप से लागू करने योग्य आधिकारिक दस्तावेज़ है।

क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस किस प्रकार के होते हैं?

क्रिप्टो वॉलेट के लाइसेंस के कई प्रकार होते हैं, जो इस बात पर निर्भर करते हैं कि वे कस्टोडियल हैं (ज़्यादातर मामलों में) या गैर-कस्टोडियल हैं, जिससे उपयोगकर्ताओं को उनकी कीज़ को प्रबंधित करने की क्षमता मिलती है।

क्रिप्टो वॉलेट लाइसेंस प्राप्त करने के लिए कौन से क्षेत्राधिकार लोकप्रिय हैं?

क्रिप्टो की दुनिया में, वित्तीय सेवा फर्मों की वैधता और पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए सबसे लोकप्रिय क्षेत्राधिकार संयुक्त अरब अमीरात, लिथुआनिया और एस्टोनिया हैं।

क्रिप्टो वॉलेट के लाइसेंस को कैसे प्राप्त करें?

क्रिप्टो वॉलेट के लिए लाइसेंस प्राप्त करने की प्रक्रिया बहु-चरणीय है और क्रिप्टो क्षेत्र की निगरानी के लिए अधिकृत निकाय के चयन से शुरू होती है।

पिछले लेख

B2BinPay at Latam Family Office Announcement Summit
B2BinPay Fosters Global Connections at Latam Family Office Investment Summit
15.04.2024
best multicurrency crypto wallet in 2024
2024 में अपने क्रिप्टो एसेट्स के लिए सबसे बेहतरीन मल्टी-मुद्रा वॉलेट की खोज कैसे करें?
10.04.2024
White-label Crypto Payment Gateway
वाइट लेबल क्रिप्टो भुगतान गेटवे क्या है & यह किसके लिए है?
09.04.2024
The Top 20 Crypto Payment Providers
टॉप 20 क्रिप्टो भुगतान सेवा प्रदाता कंपनियाँ
08.04.2024